Updates

Hindi Urdu

नौकरी पाने की बजाए, लोगों की नौकरियाँ जा रही हैं, इनवेस्टर का भरोसा बिल्कुल टूट गया: सोनिया गांधी

डॉ. मनमोहन सिंह जी ने रियल एस्टेट की बात की कि सिर्फ 8 मेट्रोपोलिटन शहरों में, जो 8 बड़े शहर हैं, उनमें साढ़े चार लाख आवास बनकर तैयार हैं, पर ना उनको लेने वाला कोई है, ना उनको कोई खरीदने वाला है, तो जिस तरह के हालात रियल एस्टेट में है, उसकी वजह से कितनी दिक्कतें हैं और कितनी नौकरियां लोगों को खोनी पड़ रही हैं। उन्होंने रुपए की बात की, एक बहुत महत्वपूर्ण बात की कि रुपया तो रोजाना डॉलर के मुकाबले गिर रहा है, उसका फायदा भी ये सरकार नहीं ले रही, क्योंकि जब रुपया डॉलर की तुलना में गिरता है तो एक्सपोर्ट में आपको फायदा अवश्य मिलता है, परंतु रुपया डॉलर के मुकाबले गिरने के बावजूद भी उसका फायदा जो एक्सपोर्ट में मिलना चाहिए, वो भी नहीं मिल पा रहा है, रुपया रोजाना गिरता जा रहा है और ये सरकार उसका फायदा भी हमारे एक्सपोर्टर्स को नहीं दे पा रही है।

By: वतन समाचार डेस्क

नौकरी पाने की बजाए, लोगों की नौकरियाँ जा रही हैं, इनवेस्टर का भरोसा बिल्कुल टूट गया: सोनिया गांधी

 

नयी दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष ने आज एक मीटिंग बुलाई थी, जिसमें हमारे सभी वरिष्ठ नेता, महासचिव, इंचार्ज, सीएलपी और पीसीसी के सभी नेता उपस्थित थे। अपने उद्बोधन में कांग्रेस अध्यक्ष ने अर्थव्यवस्था को लेकर शुरुआत की, जो हालत आज देश में अर्थव्यवस्था की है, उस पर उन्होंने गहन चिंता जताई। नौकरियों की जो हालत इस देश में है, लोग नौकरी पाने की बजाए, उनकी नौकरियाँ जा रही हैं। इनवेस्टर कॉन्फिडैंस बिल्कुल टूट गया है और जैसे कि वेणु गोपाल जी ने कहा कि एक राजनीतिक द्वेष के तहत ये सरकार काम कर रही है और दूसरा जो भी इनके खिलाफ आवाज उठाता है, उनके खिलाफ मुकदमे होते हैं, उनके ऊपर दबाव डाला जाता है, या उनको अपनी पार्टी में बुलाकर सारी चीजें समाप्त कर दी जाती हैं, जैसे कि आप रोजाना इन चीजों को देख रहे हैं।

उन्होंने एक और महत्वपूर्ण बात कही कि जिन्होंने लड़ाई लड़ी, जिनका योगदान इस देश को आजादी दिलाने में रहा है, मैं कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की बात कर रहा हूं, चाहे वो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी हों, सरदार पटेल जी हों, आदरणीय अंबेडकर जी हों, इनका जो योगदान इस देश में रहा है, उनको ये दल अपना बताकर उनकी विचारधारा से लोगों को अलग करने की कोशिश में लगा है।

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह जी ने अर्थव्यवस्था पर पूरा जो डेटा है उसके बारे में नेताओं को बताया। उनका जो उद्बोधन है, वो हम आपको सीधा भेज देंगे। उनके पूरे उद्बोधन में मुख्य चीजें थी कि सबसे पहले जो जरुरी है कि ये आज की जो सरकार है, उसका ये मानना है कि अर्थव्यवस्था में बहुत बड़ी गड़बड़ी चल रही है। जो दिक्कत देश की अर्थव्यवस्था में है, जब तक सरकार उसको नहीं मानेगी, तब तक सुधार नहीं हो सकता है। जब तक आदमी अर्थव्यवस्था में जो दिक्कतें हैं, उसको नहीं मानेगा, तो सरकार कैसे उसके लिए ठीक काम कर सकती है? उनका उद्बोधन हम आपके पास भेज रहें है, पर साफ तौर से दो चीजों पर उनकी बातों को आपके समक्ष रखना चाहूंगा।

डॉ. मनमोहन सिंह जी ने रियल एस्टेट की बात की कि सिर्फ 8 मेट्रोपोलिटन शहरों में, जो 8 बड़े शहर हैं, उनमें साढ़े चार लाख आवास बनकर तैयार हैं, पर ना उनको लेने वाला कोई है, ना उनको कोई खरीदने वाला है, तो जिस तरह के हालात रियल एस्टेट में है, उसकी वजह से कितनी दिक्कतें हैं और कितनी नौकरियां लोगों को खोनी पड़ रही हैं। उन्होंने रुपए की बात की, एक बहुत महत्वपूर्ण बात की कि रुपया तो रोजाना डॉलर के मुकाबले गिर रहा है, उसका फायदा भी ये सरकार नहीं ले रही, क्योंकि जब रुपया डॉलर की तुलना में गिरता है तो एक्सपोर्ट में आपको फायदा अवश्य मिलता है, परंतु रुपया डॉलर के मुकाबले गिरने के बावजूद भी उसका फायदा जो एक्सपोर्ट में मिलना चाहिए, वो भी नहीं मिल पा रहा है, रुपया रोजाना गिरता जा रहा है और ये सरकार उसका फायदा भी हमारे एक्सपोर्टर्स को नहीं दे पा रही है।

जैसे वेणुगोपाल जी ने कहा कि सारे नेताओं ने इस मीटिंग में चर्चा की और 32 लोगों ने इसमें अपनी राय रखी। श्रीमती सोनिया गांधी ने एक बात और साफ तौर से कही कि कांग्रेस नेताओं को, कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को सिर्फ सोशल मीडिया या ट्विटर पर काम नहीं कर करना चाहिए, बल्कि देश की जनता तक, गांव तक, गरीब तक पहुंचने की भी जरुरत है और एजुकेशनल कार्यक्रम करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है। कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं को साफ तौर से गांव और गरीबों के लिए और जो वहाँ दिक्कतें हैं, उनके लिए एजुकेशनल कार्यक्रम करना अनिवार्य है। जैसे कहा गया कि एजुकेशनल कार्यक्रम के लिए चर्चा हुई और साफ तौर से ये भी कहा गया कि जितने पीसीसी डेलीगेट्स हैं, अपने प्रदेशों में डेलिगेट्स की मीटिंग बुलाकर इकॉनमी पर, जिस तरह से इस देश में अर्थव्यवस्था में मंदी पड़ी हुई है और किस तरह से नौजवानों के लिए रियल एस्टेट में सारी दिक्कतें हैं, किसानों को दिक्कतें हैं, बेरोजगारी पर किस तरह की गंभीर स्थिति बनी हुई है, इनके खिलाफ एक आवाज उठाकर कांग्रेस के सारे डेलिगेट्स और कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता भी उस मीटिंग में उपस्थित होंगे।

और जैसा कि कहा गया कि 15 से लेकर 25 अक्टूबर तक अर्थव्यवस्था को लेकर एक बड़ा एजिटेशनल देशव्यापी कार्यक्रम कांग्रेस पार्टी करने जा रही है।

श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा के मेंबरशिप ड्राइव में हिस्सा लेने से संबंधित एक प्रश्न के उत्तर में श्री आरपीएन सिंह ने कहा कि जैसा कि आज निर्देश हुए हैं वो बिल्कुल जाएंगी, वो दो अक्टूबर में पदयात्रा में हिस्सा लेंगी। वो मेंबरशिप ड्राइव में भी अवश्य हिस्सा लेंगी।

 

आज की मीटिंग में श्री राहुल गांधी के सम्मिलित न होने से संबंधित एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री आरपीएन सिंह ने कहा कि मैंने आपको कहा कि ये पीसीसीज, सीएलपी और महासचिवों की मीटिंग थी, उन्हीं लोगों को इस मीटिंग में आमंत्रित किया गया था।

 

इसी से संबंधित एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री आरपीएन सिंह ने कहा कि गुलाम नबी आजाद जी महासचिव हैं और हर मीटिंग में डॉ. मनमोहन सिंह जी, हमारे देश के पूर्व प्रधानमंत्री हैं और जो हमें अर्थव्यवस्था पर बात करनी है, उनसे अधिक अर्थव्यवस्था के बारे में कौन कह सकता है और वही पॉइंट मैंने आपको बताए। एक रुपए के बारे में जब एक्सपोर्ट बढ़ने चाहिए तो वो घट रहे हैं और यही पॉइंट जो उनकी पहचान, एक इकनॉमिक एक्टिवीटी के बारे में है, तो वो सारे नेताओं को इकॉनमिक दृष्टिकोण पर उन्हीं ने चर्चा की थी, इसी का वीडियो हम आपको अपलिंक कर रहे हैं।

 

On the question of membership target, Shri RPN Singh said- what has been decided completely is that we have to go and make as many Members as we can and what has been stressed today very clearly that they should be genuine Members and it will also because there will be a form to fill, it will not only a Membership drive, it will also be collective campaign, when you go to a person in his village at his home, we will also get other forms to fill in and it will be a genuine Membership. By giving a missed call, you make a Member, you know nothing about him, it is a more genuine drive reaching out to the real grass root worker who is influenced by the idea of the Congress Party.

 

On the question about the membership of the Congress party, Shri Singh said- it is more than 2 crore.

 

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री आरपीएन सिंह ने कहा कि हम नई पार्टी नहीं है, हमारे लोग जो इस देश में साईकिलों पर लेकर, इस देश में जिन्होंने लड़ाई की है स्वतंत्र बनाने के लिए, तब से कांग्रेस पार्टी के लोग गांव में जाकर लोगों को प्रेरणा देते आए हैं, उसी चीज को हम लोगों ने फिर से जारी किया है। हमे कहीं और से सीखने की जरुरत नहीं है, हम लोग बहुत पुरानी पार्टी हैं और ये जितने काम हैं, ये हम लोग पहले से करते आ रहे हैं। जैसे वेणुगोपाल जी ने कहा कि कंटम्परेरी में नई चीजें, जो आज बताई जाती हैं, कि नया राष्ट्रवाद जो चल रहा है, नई धर्म निरपेक्षता है, जो देश के मूल सिद्धांत हैं वो जो आज से नहीं कई वर्षों से, सैंकड़ों सालों से चली आ रही है, उसको हमें कायम रखना है और लोगों को कंटेम्पररी चीजों से जानकारी देने की आवश्यकता है।

 

On the question of Padyatra, Shri Venugopal said- in each and every state, there will be a padyatra. We have given the choice to PCCs. We have given them a general direction on this issue. Delhi PCC is also going to organise padyatra.

मेंबरशिप ड्राइव से संबंधित एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री आरपीएन सिंह ने कहा कि मेंबरशिप ड्राइव में जितने लोग, जो कांग्रेस में सदस्यता ग्रहण करना चाहते हैं, वो नौजवान हों, महिलाएं हों, किसी गांव से आती हों, सबके लिए उसमें जगह है।

 

On another question on Union Minister Piyush Goel’s statement declining any economic slowdown, Shri RPN Singh said- this is exactly what Dr. Manmohan Singh Ji has said – first the Government has to acknowledge and first of all to clearly accept that there is a problem in the economy. By coming up with inane explanation, the problem is not going to go away.

 

 

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

धर्म

ब्लॉग

अपनी बात

Poll

Should the visiting hours be shifted from the existing 10:00 am - 11:00 am to 3:00 pm - 4:00 pm on all working days?

SUBSCRIBE LATEST NEWS VIA EMAIL

Enter your email address to subscribe and receive notifications of latest News by email.